अन्य संस्कृति

विश्व हिन्दी सम्मेलन में भाजपाई प्रतिनिधिमंडल

विमान में उद्घोषणा होती है – अब थोड़ी देर में आपको नाश्ता परोसा जाएगा। अपना एअर इंडिया होता तो घोषाणा होती – अब थोड़ी देर में जलपान दिया जाएगा। मैं एअर इंडिया की बजाय एअर मॉरिशस से सफर कर रहा हूं, जोकि मॉरिशस में आयोजित 11वें विश्व हिन्दी सम्मेलन के प्रायोजकों में एक है। भारत […]

संस्कृति

मॉरीशस में डोडो की तरह कहीं भोजपुरी न विलुप्त हो जाए

शिवाजी सिंह हिंद महासागर के ‘छोटे भारत’ मॉरीशस में ग्यारहवें विश्व हिंदी सम्मेलन के बाद लोगों में उम्मीद जगी है कि उनके राष्ट्रीय पक्षी ‘डोडो’ की तरह यहां हिंदी एवं भोजपुरी भाषा और भारतीय संस्कृति विलुप्त नहीं होगी। मॉरीशस के स्वामी विवेकानंद अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र में 18 से 20 अगस्त तक चले 11वें विश्व हिंदी […]

समाज संस्कृति

भाषा और संस्कृति – कुछ विचार

(11वें विश्व हिन्दी सम्मेलन के अवसर पर विशेष) शंकर दयाल सिंह भाषा और संस्कृति एक-दूसरे के पूरक हैं या अनुपूरक? जहां भाषा हमारे भावों को अभिव्यक्तिक चेतना प्रदान करती है, वहां संस्कृति मानवीय गरिमा और सांस्कृतिक सौष्ठव की संवाहिका है। इसे इस रूप में भी कहा या समझा जा सकता है कि भाषा की भी […]

समाज संस्कृति

मॉरिशस, हम आ रहल बानी!

मॉरिशस से मुझे पत्र मिला है, आदरणीय श्री रंजन कुमार सिंह जी, ११वें विश्व हिंदी सम्मेलन में सहभागिता हेतु भारत तथा अन्य देशों से मॉरीशस पधारने वाले सभी हिंदी प्रेमियों का स्वागत करने के लिए हम भी उत्साहित हैं| इस देश में आपके आवास को सुखद बनाने के लिए यथाशक्ति प्रयास किया जाएगा| सादर डॉ […]

अन्य संस्कृति

प्रतापी पुरखों को समर्पित है यह विश्व हिन्दी सम्मेलन

द्वितीय विश्व हिन्दी सम्मेलन का आयोजन मॉरिशस की राजधानी पोर्ट लुई में 28 से 30 अगस्त 1976 को हुआ था। नागपुर में हुए प्रथम विश्व हिन्दी सम्मेलन के आयोजन के डेढ़ साल के भीतर ही। भारत में संपन्न प्रथम सम्मेलन की आयोजन समिति के अध्यक्ष तत्कालीन उपराष्ट्रपति श्री बी0डी0 जत्ती थे, तो पोर्ट लुई में […]