अन्य समाज

कोरोना – दो दुनी चालिस

कोरोना के विषाणु जिस तेजी से दुनिया भर में पसर गए हैं, उसे देखकर सिर्फ दांतों तले उंगली ही दबाई जा सकती है। यह विषाणु पहले-पहल तो पकड़ में आया था चीन के वुहान में, पर देखते ही देखते मरनेवालों की संख्या चीन से अधिक इटली एवं स्पेन में हो गई और फिर संक्रमित लोगों […]

अन्य समाज

शुक्र मनाएं कि कोरोना सीथे-सीथे चीन से नहीं आया

पूरी दुनिया मानो रुक सी गई है। कोरोना कहर बनकर देश और दुनिया पर बरपा है। यह विषाणु अब तक दुनिया के 196 देशों या प्रदेशों तक पसर चुका है और आलेख के लिखने तक 4,16,686 लोगों को संक्रमित कर चुका है। कुल 18,589 लोग तो इसके शिकार भी हो चुके हैं। संक्रमित होनेवालों में […]

अन्य समाज

किसी और से संभाले नहीं संभलेगी वह बिन्दी

शीला दीक्षित का चले जाना अभी ताजा ही था कि सुषमा स्वराज भी हमारे बीच से चली गई। आज की विद्रूप होती जा रही राजनीति में दोनों महिलाएं शालीनता की प्रतिमूर्ति थीं। दोनों पर ही कीचड़ उछाले जाते रहे, पर दोनों में से किसी ने भी अपनी शालीनता नहीं छोड़ी। इस बात को अभी एक […]

अन्य देश समाज

सौम्यता और ममता की मूर्ति

सौम्यता को यदि मूर्त रूप दिया जा सकता तो वह संभवतः शीला दीक्षित जैसी दीख पड़ती। ममता को कोई और नाम देने के लिए मुझे कहा जाए तो मैं उसे शीला दीक्षित का ही नाम देना चाहूंगा। वह राजनीति के पंक में गहरे तक डूबी हुई थीं, पर उनका स्‍नेहसिक्त व्यक्तित्व उन्हें राजनीति के कलुष […]

देश समाज संस्कृति

लोकतंत्र को खोखला होता देखना उनके लिए मुश्किल था

अटलजी नहीं रहे। उनके साथ ही लोकतंत्र का एक सुन्दर अध्याय भी समाप्त हो गया – एक ऐसा अध्याय जिसमें भाषा की मधुरता और भावों का बल था। नहीं पता कि इसके बाद कोई और कभी लिख पाएगा ऐसा अध्याय। जिस तरह भारतीय संस्कृति विविधताओं से भरी हुई है, वैसे ही भारतीय राजनीति विचित्रताओं से […]