साहित्य

मौसम जुआ-जुआ

रंजन कुमार सिंह मेरे मित्र ने हर साल की तरह मुझे दीपावली के पहले भोज का निमंत्रण दिया तो मुझे याद हो आया कि जुआ का मौसम आ चला है। दरअसल, साल में एक बार ही हमें उनके घर से बुलावा आता है और वह भी ठीक दीपावली से पहले। मित्र सरकारी सेवा में हैं […]